इस अभिनेत्री का छलका दर्द, बोलीं- जिंदा इंसान की तारीफ नहीं होती

Zareen Khan Spills Pain: इस अभिनेत्री का छलका दर्द, बोलीं- जिंदा इंसान की तारीफ नहीं होती

जगन्नाथ मंदिर का ध्वज हमेशा हवा के विपरीत क्यों उड़ता है? जानिए रथयात्रा से जुड़ी रोचक परंपराएं..

Zareen Khan Spills Pain: अभिनेत्री जरीन खान ने अपने दिमाग में चल रहे विचारों को शेयर किया है| उन्होंने पूछा कि जीवित लोगों की सराहना क्यों नहीं की जाती है| उन्होंने लिखा, “इस समय मेरे दिमाग में बहुत ढेर सारे ‘क्यों’ हैं| दुनिया को अपनी कीमत बताने के लिए इंसान को क्यों मरना पड़ता है| क्यों जीवित रहने पर उनकी सराहना नहीं की जाती, जितना मरने के बाद की जाती है| क्यों लोगों को किसी के जीवन की परवाह नहीं होती है, वहीं मरने के बाद उस पर सबके विचार और राय आने शुरू हो जाते हैं| क्यों एक जीनियस/ उच्च बुद्धि वाले व्यक्ति की पहचान मानसिक रूप से बीमार/अस्थिर होने के रूप में की जा रही है|”

हाथ की रेखाओ में बने ये निशान बनाते है राजयोग, ऐसे लगाएं पता

Click Here For Free Test Series For SSC, Bank, Railway – Join Us Now

 

View this post on Instagram

 

There are so many WHYs in my head right now … WHY does a person have to die for the world to understand his/her worth? WHY is a person not appreciated when he/she is alive , the way he/she is after being no more? WHY do all the people who have no idea about the person’s life , have so many opinions & things to say when tht person is dead? WHY is being a genius/having a high IQ identified as being mentally ill/unstable? WHY has social media become the validation for your happiness & identification of your grief? WHY has the world turned so cruel that a person’s death has become a money making / TRP garnering business? WHY , WHY , WHY … Just WHY????? #VoicesInMyHead #Why #ZareenKhan

A post shared by Zareen Khan 🦄🌈✨👼🏻 (@zareenkhan) on

Zareen Khan Spills Pain: उन्होंने कहा, “क्यों सोशल मीडिया आपकी खुशी और आपके दु:ख की पहचान करने वाला टूल बन गया है| क्यों दुनिया इतनी क्रूर हो जाती है, क्यों किसी व्यक्ति की मौत बस एक व्यवसाय या टीआरपी बन के रह गई है| क्यों, क्यों, क्यों, आखिर क्यों?”

क्या आप जानते है CDMA, GSM, LTE और GPS क्या होता है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *